Thursday, September 30, 2010

जीतेंगे जहां......

सुन ले ज़मीं...
चाहे सुन ले आसमां...
वादा है अपना...
जीतेंगे जहां...
जीतेंगे जहां...
हाँ..जीतेंगे जहां..
हमसे दीवाने...
मिलेंगे कहाँ...
कौन है जो हमको...
रोकेगा यहाँ...
रोकेगा यहाँ...
हाँ.. रोकेगा यहाँ... 
सुन ले ज़मीं...
चाहे सुन ले आसमां...
वादा है अपना...
जीतेंगे जहां...
प्यारे हिन्दुस्तां ...
तुझ पर कुरबां...
मेरा दिल मेरी जां ...
मेरा दिल मेरी जां ...
हाँ..मेरा दिल मेरी जां ...
होगा चर्चा...
अब सुबहो-शाम
पूरे होंगे...
दिल के अरमां...
दिल के अरमां...
हाँ... दिल के अरमां ...
सुन ले ज़मीं...
चाहे सुन ले आसमां...
वादा है अपना...
जीतेंगे जहां...
जीतेंगे जहां...
हाँ जीतेंगे जहां..




संदर्भ:- राष्ट्रकुल खेलों में भाग लेने वाले भारतीय खिलाड़ियों के दिलों में झाँकती चंद पंक्तियाँ..................................................